सूरजपुर.  छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सूरजपुर (Surajpur) जिले में हाथियों का आतंक थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. मंगलवार को शहर के प्रतापपुर वन परिक्षेत्र में एक महिला को हाथी (Elephant Attack) ने बुरी तरह रैंद दिया. घायल महिला की मौके पर ही मौत (Death) हो गई. घटना की सूचना मिलते ही वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंच गए. मिली जानकारी के मुताबिक घटनास्थल से देर रात तक महिला के शव को हटाया नहीं जा सका था. फिलहाल वन अमला ने महिला के शव को घटनास्थल से निकालने लिया है और प्रतापपुर ले आई है. पोस्टमार्टम के बाद महिला के शव को परिजनों को सौंप दिया जाएगा.
बाजार के लिए गई थी महिला
मिली जानकारी के मुताबित मंगलवार शाम हाथियों के दल ने एक महिला को कुचल कर मार डाला. हाथियों के झुंड ने एक 40 वर्षीय महिला को बुरी तरह रौंद दिया जिससे महिला की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. दरअसल, प्रतापपुर वन परिक्षेत्र के धरमपुर जंगल में 17 हाथियों का दल डेरा जमाए हुए है. वहीं धरमपुर साप्ताहीक बाजार में मंगलवार को गौरा गांव निवासी मृतिका रामबाई बाजार के लिए गई हुई थी.
देर शाम बाजार से लौटते वक्त हाथियों के दल ने रामबाई को घेर लिया और उसे कुचल कर मार डाला. वारदात के बाद ग्रामीणों का आरोप है कि हाथियों के मौजूदगी की सूचना और साप्ताहीक बाजार को जल्द समाप्त करने की पहले से सूचना वन विभाग के आला अधिकारी और कर्मचारियों ने नहीं दी थी. हादसे के बाद ग्रामीणों में काफी आक्रोश है. तो वहीं रात होने के कारण शव को मौके से वनअमला नहीं हटा सका था. बुधवार सुबह महिला के शव को प्रतापपुर लाया गया. गौरतलब है कि पिछले पांच दिनों में जिले में तीन लोगों को हाथियों ने कुचलकर मार डाला है. हाथियों के मौजूदगी से लोगों में दहशत का माहौल है.