इंदौर । मप्र की 28 विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव का घमासान चरम पर पहुंच गया है। भाजपा और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर आरोपों की बौछार कर रहे हैं। अपने आप को जनहितैषी बनाने के लिए दूसरे पर जनता के शोषण का आरोप लगया जा रहा है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को घेरा, वहीं कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ने शिवराज को कटघरे में खड़ा किया।
कांग्रेस ने पहले दिन से ही जनता को धोखा देना शुरू कर दिया था: चौहान
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भांडेर, दिमनी, जौरा, मेहगांव विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशियों के लिए प्रचार किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि 15 माह प्रदेश में रही कांग्रेस सरकार ने प्रदेश की जनता को धोखा देने का काम पहले दिन से ही शुरू कर दिया था। यह धोखा मुख्यमंत्री के रूप में जनता को मिला। मुख्यमंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को बनना था, लेकिन कांग्रेस ने कमलनाथ को मुख्यमंत्री की कुर्सी दे दी। इसके बाद दूसरा धोखा किसान कर्जमाफी का मिला, जो आज तक नहीं हुई। इसके बाद तो धोखे पर धोखे ही मिलते रहे। प्रदेश में कांग्रेस सरकार विनाश करने के लिए आई थी और उन्होंने हमारे विकास को भी विनाश में बदल दिया।
ब्याज की गठरी मामा उतरेगा
मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ सरकार के कारण जिन किसानों के सिर पर ब्याज की गठरी रखी है कि उसे उनका मामा उतरेगा। किसान चिंता नहीं करें। कांग्रेस की कर्जमाफी की वादाखिलाफी के कारण किसान डिफाल्टर हो गए हैं, उन पर बैंकों का कर्ज चढ़ गया है, लेकिन इस कर्ज के ब्याज को उनका मामा भरेगा। उन्होंने कहा कि कमलनाथ 55 हजार करोड़ की कर्जमाफी लेकर आए थे, जो बाद में 6 हजार करोड़ पर आ गई और इसमें से भी हुई कुछ नहीं। इनके 800 करोड़ रूपए बैंकों को हमने दिए।
कांग्रेस की सरकार लूटो और खाओ की राजनीति करती रही: तोमर
केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कांग्रेस की सरकारें हमेशा से लूटो और खाओ की राजनीति करती रही है। इन्होंने कभी भी जनता का दुख-दर्द नहीं समझा। हमेशा देश-प्रदेश की जनता के साथ धोखा दिया है, छलावा किया है, लेकिन अब इस धोखेबाजी से बचना है और प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सरकार को स्थायी बनाना है। तोमर ने कहा कि यह उपचुनाव सामान्य चुनाव नहीं हैं। बेहद महत्वपूर्ण चुनाव हैं। ये उपचुनाव मध्यप्रदेश के भविष्य की दिशा तय करने वाला चुनाव हैं। ये उपचुनाव भिंड-मुरैना जिले में विकास की धारा बहाने के लिए हो रहे हैं। ये उपचुनाव मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चैहान की सरकार को पांच वर्ष तक स्थायी रूप से बनाए रखने के लए हो रहे हैं। ये उपचुनाव व्यक्ति केंद्रित, क्षेत्र केंद्रित नहीं हैं। यह मुख्यमंत्री एवं विकास केंद्रित उपचुनाव हैं।
जनता को भगवान बताने वालों के असली भगवान माफिया -मिलावटखोर : कमलनाथ
उधर, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा के आरोपों का जवाब देते हुए कहा है कि प्रदेश में फिर माफिया हावी हो गया है। प्रदेश की जनता पर मुझे भरोसा है कि वो हमारा साथ देगी। कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में शिवराज सरकार आते ही शराब माफिया, अपहरण माफिया, अपराध माफिया, भूमाफिया, ड्रग माफिया, सारे तरह के माफिया फिर सक्रिय हो गए हैं। उज्जैन में शराब माफिया द्वारा 14 लोगों की जान लेने के बाद अब जबलपुर में एक 12 वर्ष के बालक का अपहरण हो गया। पूरी सरकार चुनावों में लगी है, प्रदेश में सरकार नाम की चीज नहीं, कानून व्यवस्था की स्थिति बदतर हो गई है, बहन-बेटियां भी असुरक्षित हैं। जनता भगवान भरोसे। जनता को भगवान व खुद को पुजारी बताने वालों के असली भगवान माफिया-मिलावटखोर बन चुके हैं।
वहीं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के एक वायरल वीडियो पर प्रदेश की सियासत गरमा गई है। ये वीडियो शुक्रवार का है जब उनके निवास पर लोकतंत्र बचाओ यात्रा की गाड़ी को हरी झंडी दिखाई जा रही थी। इस मौके पर पहुंचे मीडिया के लोगों से कमलनाथ ने हंसते हुए कहा कि क्या हाल-चाल हैं आपके, मैं आपसे दूर रहता हंू, शिवराज नहीं हूं मैं, शिवराज तो आपके घर पहुंच जाएंगे। मैं उस तरह की राजनीति पर विश्वास नहीं करता, ये आपने आजमा लिया होगा। ये सब भावनाओं की बात है इसे कोई लैंस कैप्चर नहीं कर सकता। हालांकि लोकतंत्र बचाओ यात्रा को रवाना कर कमलनाथ ने मीडिया से बात की। उन्होंने इमरती देवी के आरोप पर कहा कि ये खुद बिके हुए लोग हैं और ये सिर्फ आरोप ही लगा सकते हैं, वे खुद करोड़ों की बात करती हैं। वहीं भाजपा के जवाब में कांग्रेस ने कमलनाथ का पूरा वीडियो जारी किया और कहा कि भाजपा ने कांट-छांट कर वीडियो वायरल किया है। वे इसकी शिकायत सायबर सेल और चुनाव आयोग में करेंगे।
दिग्विजय देश के सबसे बड़े जयचंद: वीडी शर्मा
सांवेर विधानसभा का संकल्प पत्र जारी करने पहुंचे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को देश का सबसे बड़ा जयचंद कह डाला। उन्होंने कमलनाथ के लिए कहा कि वे अकेले ही घंटी बजाकर घूम रहे हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा ने कहा कि साधु क्या होता है और शैतान क्या होता है, यह बताने की जरूरत नहीं है। अपना स्वार्थ ना देखते हुए जनता और समाज के लिए काम करना ये साधु प्रवृत्ति है। शैतान लूटने का काम करता है। मप्र को इन शैतानों ने बहुत लूटने का प्रयास किया है। संकल्प पत्र जारी करते हुए उन्होंने घर-घर नर्मदा का पानी लाने का वादा किया।